Jaldapara

इस धरा पर सबके लिए अपना प्राकृतिक निवास है. आइये चलते हैं – जलदापारा – नाम तो सुना होगा. जी हाँ जलदापारा नेशनल पार्क, उत्तर मदारीहाट स्थित सिलीगुड़ी से लगभग 125 किलोमीटर की दुरी पर है. वन्य प्राणियों को करीब से देखने और उनके प्राकृतिक आवास को नजदीक से समझने का ये एक बेहतरीन स्थान है. इसके अलावा आप जंगल में बोडो नृत्य, बोटिंग, जीप सफारी, एलीफैंट सफारी एवं वॉच टावर का सम्पूर्ण आनंद ले सकते है. और हाँ साथ में अपना कैमरा लेना ना भूलें. बोडो नृत्य स्थल पर स्थानीय लोगों की कलाकृति एवं मोमो जैसे अन्य खाद्य सामग्री आपको एक सम्पूर्णता का एहसास दिलाते हैं . जीप सफारी से शाम को लौटते हुए पिकॉक ट्रेल्स पर क्लिक करना न भूलें. यहाँ असंख्य मोर पूरी तन्मयता से नाचते हुए दिख जायेंगे. सुबह के वक्त एलीफैंट सफारी, धुंध के चादर ओढ़े हरे भरे जंगल, अपनी दिनचर्या और आहार के लिए विचरते वन्य प्राणी आपको किसी कल्पना लोक की सैर करवाते है. कुछ तो खास है यहाँ, क्यों की लौटते वक्त आप अपना यहाँ कुछ छोड़ आते हैं.